Sunday, June 30, 2024

अमिताभ, प्रभास, दिपीका और कमल हसन का कल्कि मुवी





हप्तो से, महिनो से कल्कि २८९८ AD के ट्रेलर देखते आ रहे थे। रिलीज़ के लिए जब फिल्म के प्रमुख कलाकार स्टेज पर इकट्ठे हुवे तो उसका भी वीडियो युट्युब पर देखा। रिलीज़ हो गइ पर देखने कहाँ जाएँ? तो अब तो अमरीका में रेगुलर मुवी थिएटर में ही रिलीज़ हो जाती है फिल्म। ऑनलाइन सर्च किया तो पता चला अल्बुक़र्क़ी में चल रहा है। ऑनलाइन ही टिकट लिया और फिर गाडी में बैठ रवाना हो गए।

सांता फे से अल्बुक़र्क़ी का ड्राइव सीनिक है बहुत ज्यादा। स्पीड लिमिट ७५ माइल है लेकिन ८० चलाओ तो भी लोग बराबर ओवरटेक करते रहते हैं। लौटते बख्त बारीश हो गइ तो ७० पर आ गए। एक बार तो थोड़ा और कम कर दिया।

ये पहाड़ी इलाका भी है और मरुभुमि भी। बारीश हो गइ, बड़ी बात हो गयी। जिसके घर में किराए पर कमरा लिया है वो कह रहा था देखो यहाँ घर के सामने घाँस हुवा करते थे। कुछ सालो से सुखा पड़ा हुवा है।



असली कल्कि फिल्म तो शाहरुख़ खान का जवान है। ये मेरे को महिनों से मालुम था। मेरे को ये बात खुद भगवान कल्कि ने कहा। सिर्फ मेरे को ही नहीं सबको कहा। अपने फेसबुक स्टेटस में लिखा। हाँ, वे आ चुके हैं। लेकिन ये बात खुद शाहरुख़ खान को नहीं पता। फिल्म के निर्देशक एटली को नहीं पता। ईश्वर आप के मार्फ़त अपना काम कर सकते हैं, अपना सन्देश दे सकते हैं और आप को पता तक न चले। उस बात का प्रमाण है जवान फिल्म।

शाहरुख़ की तरह मैं भी अमिताभ बच्चन का जबरदस्त फैन रहा हुँ। सारी जिन्दगी। मेरे कागजात पर जो जन्मदिन है वो मेरा नहीं, अमिताभ का है। जब स्कुल भेजना हुवा तो कागज पर जन्मदिन लिखना होता है। मेरे पिता जी ने लिखा। लेकिन मेरा नहीं अमिताभ का। शायद उन्हें लगा होगा ये लड़का तो बड़ा जबरजस्त फैन निकला। लेकिन वो बात मेरे को दश साल पता नहीं चला। एक बार गौर किया तो लगा, अरे ये तो अमिताभ बच्चन का जन्मदिन है। तो जब लोग मेरे को जन्मदिन मुबारक बोलते हैं सोशल मीडिया पर तो मैं जवाब में लिख देता हुँ, अमिताभ बच्चन को जन्मदिन मुबारक। मैं हाई स्कुल में अमिताभ का बाल नकल किया करता था। सर्च करो वो पिक्चर इंटरनेट पर मिल जाएंगे। ब्लैक एंड वाइट में है। स्टुडिओ जाना पड़ता था फोटो खिंचाने।

बहुत अच्छा काम किया है अमिताभ ने फिल्म में। उनकी ब्लैक फिल्म याद आ गयी।

कल्कि २८९८ में नहीं आएंगे। वे आ चुके हैं। फिर भी मैं पिक्चर देखने गया। फिल्म कला है। कलाकार को छुट है अपनी कल्पना शक्ति को उँची उड़ान दें।

भगवान कल्कि के बारे में भविष्यवाणी है। और सिर्फ किसी एक धर्म ग्रन्थ में नहीं। सिर्फ किसी एक धर्म में नहीं। दुनिया के प्रत्येक देश के प्रत्येक चर्च में प्रत्येक रविवार को एक प्रार्थना लोग करते ही करते हैं। कि हे ईश्वर धरती पर आ जा और धरती का राजा बन शासन कर। वो शासन करेंगे। और उस नए युग का अर्थतंत्र कैसा रहेगा उसे कल्किवादी घोषणापत्र में लिख कर बाजार में रख दिए हुवे हैं।

इस कल्कि फिल्म में मैड मैक्स भी देखने को मिलता है और थोड़ा स्टार वार्स भी। साई-फाई फिल्म बनाने का प्रयास हुवा है। निर्देशक सोंचे होंगे अभी को ७०० साल बाद टेक्नोलॉजी बहुत फर्क होगा। लेकिन जवान फिल्म में न कोइ मैड मैक्स है न कोइ स्टार वार्स।



लेकिन हाँ, ये पिक्चर भगवान कल्कि के बारे किए गए कुछ प्रमुख भविष्यवाणियों के तरफ स्पष्ट संकेत जरूर करती है। जैसे कि शम्भाला। वो शम्भल है। कहा गया है भगवान कल्कि शम्भल में पैदा होंगे। पैदा हो चुके हैं। शम्भल कोइ गाओं या शहर नहीं, पुरा का पुरा देश है। कौन हिमाली देश है आज जिसका नाम शम्भल से मिलता जुलता है? स्पष्ट है वो पाकिस्तान नहीं। वो भुटान नहीं। वो भारत नहीं। तो फिर? स्पष्ट बात है। नेपाल। भगवान कल्कि नेपाल में ही पैदा हुवे, भगवान बुद्ध की तरह। भविष्यवाणी है भगवान कल्कि के मां का नाम सुमति। सुमति का शाब्दिक अर्थ निकलता है शान्ति। भगवान कल्कि के माँ का नाम शान्ति ही है। वे मुझे बहुत अच्छी तरह पहचानती हैं।

अस्वस्थामा को तो शुरू से ही कहा गया है अस्वस्थामा। लेकिन फिल्म के अंतोअंत तक खुद अस्वस्थामा को पता नहीं चलता की प्रभास कर्ण हैं। तो भगवान कल्कि के काम में सहयोग करने महाभारत और बाइबल के ढेर सारे करैक्टर आए हुवे हैं और दुनिया में जगह जगह हैं। सही वक्त पर वो सब एक एक कर के प्रोजेक्ट से जुड़ते चले जाएंगे। उनमें से कैयो से मैं मिल चुका हुँ। जैसे कि एक हैं संजय जिन्होंने धृतराष्ट को कुरुक्षेत्र के युद्ध के बारे में सारी बाते बताइ। वे वापस आ गए हैं और दिल्ली में रहते हैं।





No comments: